Baglamukhi Panchastra Mantra Sadhana Evam Siddhi

Baglamukhi Panchastra Mantra Sadhana Evam Siddhi ( बगलामुखी पंचास्त्र मंत्र साधना एवं सिद्धि )

भगवती बगलामुखी के पांच विशिष्ट उग्र मंत्र  हैं, जिन्हें ‘पंचबाण’ अथवा ‘पञ्चास्त्र’ कहा जाता है। ये पांचों मन्त्र इतने प्रभावी हैं कि इनके प्रभाव से शत्रु -समूह उसी प्रकार नष्ट हो जाता है, जिस प्रकार जंगल में लगी भयानक अग्नि से सब कुछ भस्म हो जाता है। वास्तव में इन पंचास्त्रो  के विषय में कुछ भी कहना सूर्य को दीपक दिखाने के समान है। इन अस्त्रों को सिद्ध करने वाला साधक महासिद्ध कहलाता है। अघोरास्त्र, पाशुपतास्त्र जैसे दिव्य अस्त्रों का स्तम्भन करने में भी ऐसा साधक सक्षम हो जाता है। अधिक जानकारी के लिये ईमेल करें – [email protected] अथवा कॉल करें – 9540674788, 9410030994

बगलामुखी पंचास्त्र  के प्रयोग

1. वडवामुखी अथवा वडवास्त्र रण-स्तम्भन कारक है।
2. उल्कामुखी अस्त्र तीनों लोकों का स्तम्भन करने में सक्षम है।
3. ज्वालामुखी अस्त्र देवताओं तथा ऋषियों का स्तम्भन करने में समर्थ है।
4. ब्रह्मा-विष्णु-महेश का स्तम्भन एवं उनसे रक्षा हेतु ‘जातवेदमुखी’ का प्रयोग किया जाता है।
5. सभी प्रकार के काम्य प्रयोगों की सिद्धि के लिए ‘वृहदभानुमुखी’ अस्त्र का प्रयोग किया है, क्योंकि यह इतना तीखा और प्रभावशाली है कि इसके प्रयोग से सवा करोड़ त्रिपुरा समुदाय का, 50 करोड़ भैरव का, राक्षसों का, नारसिंह का तथा करोड़ों पूतनाओं का स्तम्भन बिना किसी विशेष प्रयास के ही हो जाता है।

Read moreBaglamukhi Panchastra Mantra Sadhana Evam Siddhi